मैदान के अंदर धोनी की दिलचस्प कहानियां!

Categories

important cal

July 2017
M T W T F S S
    Nov »
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31  

एम एस धोनी यह ऐसा नाम है जो भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सुनहरे अक्षरों से लिखा जाएगा । एम एस धोनी ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को बुलंदियों तक पहुंचाया है। आपने एम एस धोनी की फिल्म को देखकर उनके मैदान की बाहर की कहानी को देख ही ली है पर हम आपको मैदान की अंदर की वह दिलचस्प बातें बताने जा रहे हैं जो आपने देखते हुए भी गौर नहीं किया होगा।

धोनी के बारे में वह बातें जो आपने देखते हुए भी गौर नहीं किया होगा

धोनी एक ऐसा खिलाडी है जो कई मौकों पर मैदान में रहकर या फिर कहे नॉन स्ट्राइक में बल्लेबाजी करते हुए कई लम्हों को अपने आंखों से देखा है

Image: Bcci

  • एक लम्हा तो वह था जब सचिन तेंदुलकर ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 200 रन की पारी खेली थी तब धोनी भी क्रीज पर मौजूद थे और वे नॉन स्ट्राइक में थे और सचिन के 200 रन के कीर्तिमान को सामने से लुत्फ़ उठाया। वे विश्व के पहले डबल सेंचुरी को बनते हुए अपनी आंखों से बीच मैदान में रहकर देख रहे थे।
  • आगे बात की जाए तो रोहित शर्मा की दोहरे शतक को कौन भूल सकता है जब रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 209 रन की पारी खेली थी उस समय भी धोनी रोहित शर्मा के साथ क्रीज़ पर  मौजूद थे और रोहित शर्मा के दोहरे शतक को भी वहां बीच मैदान में मौजूद होकर देखा।Image: Bcci
  • युवराज सिंह की एक ओवर में छह छक्के लगाने के विश्व रिकॉर्ड को भी कौन भूल सकता है। पहले टी-20 विश्व कप 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैच में ब्रॉड की 6 गेंदों में लगातार छह छक्के लगे थे उस समय पर भी धोनी नॉन स्ट्राइक में थे और उस लम्हे का भी पूरा लुत्फ उठाया था।
  • एक और मौके की बात करें तो 2010 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 विश्वकप में सुरेश रैना ने शतक लगाया था और वे भारत के एकमात्र खिलाड़ी है जिन्होंने T20 में शतक लगाया है इस रिकॉर्ड को भी धोनी नॉन स्ट्राइक में रहकर देखा है।

धोनी के ऐसे रिकॉर्ड जिन्हें आप शायद ही जानते हो

इसके अलावा धोनी ने ऐसे अनोखे वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाए बनाए हैं जिन्हें आप शायद ही जानते होंगे

  • धोनी विश्व के ऐसे एकमात्र बल्लेबाज है जिन्होंने टी20 में सबसे ज्यादा रन बिना अर्धशतक के बनाए हैं मतलब उन्होंने 70 मैच में 1069 रन बनाए थे जिनमें एक भी अर्धशतक नहीं था।
  • धोनी विकेटकीपर होते हुए भी अलग-अलग फॉर्मेट में एक बार नहीं ,दो बार नहीं कुल 9 बार गेंदबाजी की है और एक विकेट भी लिया है जो एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है।
  • धोनी का 183 रन का स्कोर जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 2005 में बनाया था यह बतौर विकेटकीपर-बल्लेबाज सर्वोत्तम स्कोर है उन्होंने गिलक्रिस्ट के 172 रन के रिकॉर्ड को अक्टूबर 2005 में जयपुर में तोड़ा था।
  • धोनी इंटेरनेशनल क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट को मिलाकर सबसे ज्यादा बार स्टंपिंग करने का विश्व रिकॉर्ड भी अपने पास रखा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*