ढोलकल प्रतिमा गिराने वाला आरोपी निकला नक्सली, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Categories

important cal

November 2017
M T W T F S S
« Jul    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  

दंतेवाडा जिले के बैलाडीला में ढोलकल पहाड़ी पर 2500 फीट ऊंचाई पर स्थित गणेश जी की प्रतिमा गिराने वाला व्यक्ति लिंगू कुंजम को फरसपाल पुलिस व सीआरपीएफ ने गिरफ्तार कर लिया

|

यह घटना 25 जनवरी 2017 की है जब ढोलकल पहाड़ी की सबसे ऊँची चोटी पर स्थित  विख्यात गणेश की प्रतिमा को नीचे खाई में गिरा दिया गया था घटना के बाद पुलिस इसकी तफ्तीश में लग गयी थी| अब जाकर पुलिस और सीआरपीएफ की टीम को पंडेवार के जंगलो में सर्च ऑपरेशन के दौरान यह कामयाबी मिली| आरोपी लिंगू कुंजाम के ऊपर फरसपाल पुलिस ने 1 लाख का इनाम भी रखा था| एएसपी नक्सल ऑपरेशन गोरखनाथ बघेल ने बताया कि आरोपी कुंजम अपने नक्सली साथियों के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया| इस घटना में उसके साथ नक्सली कमांडर अनिल व साथी प्रवीण भी शामिल थे| पुलिस ने बताया कि आरोपी लिंगू इसके अलावा कई उपद्रवी घटनाओ में शामिल रह चुका है जिनमे से उसने 17 अक्टूबर को जिंदल कंपनी के ड्रिलिंग मशीन में आगजनी, 20 अक्टूबर को नक्सली कमांडर अनिल के साथ मिलकर रेल लाइन दोहरीकरण में लगे वाहनों और मशीनों समेत कई सामान में आगजनी, और 16 फ़रवरी को कमालूर-झिरका के बीच रेल पटरी उखाड़ने जैसे कई घटनाओ को अंजाम दिया है|

10वी सदी पुरानी है गणेश की प्रतिमा

पुरातत्व विभाग की माने तो यह एतिहासिक गणेश की प्रतिमा, जो ढोलकल पहाड़ी के 2500 फीट की ऊँचाई में स्थित है, का निर्माण 10वी सदी में यहाँ के क्षेत्रीय राजवंश नागवंशियों राजाओ द्वारा स्थापित किया गया है| इस प्रतिमा का निर्माण काले ग्रेनाईट पत्थरों से किया गया है| इस ऐतिहासिक गणेश की प्रतिमा से संबंधित कई पौराणक कथा विख्यात है कहा जाता है कि बैलाडीला पहाड़ी श्रृंखला में एक कैलाश गुफा था एक बार परशुराम जी भगवान शिव से मिलने यहाँ आये थे उस समय शिव जी विश्राम कर रहे थे| उनके विश्राम में कोई विघ्न ना आए इसके लिए भगवान गणेश उनकी रक्षा के लिए वहां मौजूद थे| गणेश जी ने परशुराम जी को शिव जी से मिलने के लिए रोका तो परशुराम क्रोधित हो गये और उनके बीच भयंकर युद्ध हुआ और परसुराम जी  गुस्से में फरसे के द्वारा गणेश जी के एक दांत को काट दिया तब से गणेश जी को एक दन्त के नाम से जाना जाता है|


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*